A PHP Error was encountered

Severity: Warning

Message: fopen(/tmp/ci_sessiontjoq0j2j6jsds1pf3o9a0pclnvedver3): failed to open stream: No such file or directory

Filename: drivers/Session_files_driver.php

Line Number: 172

Backtrace:

File: /var/www/bookstruck/application/controllers/Book.php
Line: 14
Function: __construct

File: /var/www/bookstruck/index.php
Line: 317
Function: require_once

A PHP Error was encountered

Severity: Warning

Message: session_start(): Failed to read session data: user (path: /tmp)

Filename: Session/Session.php

Line Number: 143

Backtrace:

File: /var/www/bookstruck/application/controllers/Book.php
Line: 14
Function: __construct

File: /var/www/bookstruck/index.php
Line: 317
Function: require_once

रामचरितमानस| Marathi stories | Hindi Stories | Gujarati Stories

रामचरितमानस (Hindi)


गोस्वामी तुलसीदास
गोस्वामी तुलसीदासने रामचरितमानस ग्रन्थकी रचना दो वर्ष , सात महीने , छ्ब्बीस दिनमें पूरी की । संवत्‌ १६३३ के मार्गशीर्ष शुक्लपक्ष में रामविवाहके दिन सातों काण्ड पूर्ण हो गये। READ ON NEW WEBSITE

Chapters

बालकाण्ड श्लोक

बालकाण्ड दोहा १ से १०

बालकाण्ड दोहा ११ से २०

बालकाण्ड दोहा २१ से ३०

बालकाण्ड दोहा ३१ से ४०

बालकाण्ड दोहा ४१ से ५०

बालकाण्ड दोहा ५१ से ६०

बालकाण्ड दोहा ६१ से ७०

बालकाण्ड दोहा ७१ से ८०

बालकाण्ड दोहा ८१ से ९०

बालकाण्ड दोहा ९१ से १००

बालकाण्ड दोहा १०१ से ११०

बालकाण्ड दोहा १११ से १२०

बालकाण्ड दोहा १२१ से १३०

बालकाण्ड दोहा १३१ से १४०

बालकाण्ड दोहा १४१ से १५०

बालकाण्ड दोहा १५१ से १६०

बालकाण्ड दोहा १६१ से १७०

बालकाण्ड दोहा १७१ से १८०

बालकाण्ड दोहा १८१ से १९०

बालकाण्ड दोहा १९१ से २००

बालकाण्ड दोहा २०१ से २१०

बालकाण्ड दोहा २११ से २२०

बालकाण्ड दोहा २२१ से २३०

बालकाण्ड दोहा २३१ से २४०

बालकाण्ड दोहा २४१ से २५०

बालकाण्ड दोहा २५१ से २६०

बालकाण्ड दोहा २६१ से २७०

बालकाण्ड दोहा २७१ से २८०

बालकाण्ड दोहा २८१ से २९०

बालकाण्ड दोहा २९१ से ३००

बालकाण्ड दोहा ३०१ से ३१०

बालकाण्ड दोहा ३११ से ३२०

बालकाण्ड दोहा ३२१ से ३३०

बालकाण्ड दोहा ३३१ से ३४०

बालकाण्ड दोहा ३४१ से ३५०

बालकाण्ड दोहा ३५१ से ३६०

अयोध्या काण्ड श्लोक

अयोध्या काण्ड दोहा १ से १०

अयोध्या काण्ड दोहा ११ से २०

अयोध्या काण्ड दोहा २१ से ३०

अयोध्या काण्ड दोहा ३१ से ४०

अयोध्या काण्ड दोहा ४१ से ५०

अयोध्या काण्ड दोहा ५१ से ६०

अयोध्या काण्ड दोहा ६१ से ७०

अयोध्या काण्ड दोहा ७१ से ८०

अयोध्या काण्ड दोहा ८१ से ९०

अयोध्या काण्ड दोहा ९१ से १००

अयोध्या काण्ड दोहा १०१ से ११०

अयोध्या काण्ड दोहा १११ से १२०

अयोध्या काण्ड दोहा १२१ से १३०

अयोध्या काण्ड दोहा १३१ से १४०

अयोध्या काण्ड दोहा १४१ से १५०

अयोध्या काण्ड दोहा १५१ से १६०

अयोध्या काण्ड दोहा १६१ से १७०

अयोध्या काण्ड दोहा १७१ से १८०

अयोध्या काण्ड दोहा १८१ से १९०

अयोध्या काण्ड दोहा १९१ से २००

अयोध्या काण्ड दोहा २०१ से २१०

अयोध्या काण्ड दोहा २११ से २२०

अयोध्या काण्ड दोहा २२१ से २३०

अयोध्या काण्ड दोहा २३१ से २४०

अयोध्या काण्ड दोहा २४१ से २५०

अयोध्या काण्ड दोहा २५१ से २६०

अयोध्या काण्ड दोहा २६१ से २७०

अयोध्या काण्ड दोहा २७१ से २८०

अयोध्या काण्ड दोहा २८१ से २९०

अयोध्या काण्ड दोहा २९१ से ३००

अयोध्या काण्ड दोहा ३०१ से ३१०

अयोध्या काण्ड दोहा ३११ से ३२६

अरण्यकाण्ड श्लोक

अरण्यकाण्ड दोहा १ से १०

अरण्यकाण्ड दोहा ११ से २०

अरण्यकाण्ड दोहा २१ से ३०

अरण्यकाण्ड दोहा ३१ से ४०

अरण्यकाण्ड दोहा ४१ से ४६

किष्किन्धाकाण्ड श्लोक

किष्किन्धाकाण्ड दोहा १ से १०

किष्किन्धाकाण्ड दोहा ११ से २०

किष्किन्धाकाण्ड दोहा २१ से ३०

सुन्दरकाण्ड श्लोक

सुन्दरकाण्ड दोहा १ से १०

सुन्दरकाण्ड दोहा ११ से २०

सुन्दरकाण्ड दोहा २१ से ३०

सुन्दरकाण्ड दोहा ३१ से ४०

सुन्दरकाण्ड दोहा ४१ से ५०

सुन्दरकाण्ड दोहा ५१ से ६०

लंकाकाण्ड श्लोक

लंकाकाण्ड दोहा १ से १०

लंकाकाण्ड दोहा ११ से २०

लंकाकाण्ड दोहा २१ से ३०

लंकाकाण्ड दोहा ३१ से ४०

लंकाकाण्ड दोहा ४१ से ५०

लंकाकाण्ड दोहा ५१ से ६०

लंकाकाण्ड दोहा ६१ से ७०

लंकाकाण्ड दोहा ७१ से ८०

लंकाकाण्ड दोहा ८१ से ९०

लंकाकाण्ड दोहा ९१ से १००

लंकाकाण्ड दोहा १०१ से ११०

लंकाकाण्ड दोहा १११ से १२१

उत्तरकाण्ड - श्लोक

उत्तरकाण्ड - दोहा १ से १०

उत्तरकाण्ड - दोहा ११ से २०

उत्तरकाण्ड - दोहा २१ से ३०

उत्तरकाण्ड - दोहा ३१ से ४०

उत्तरकाण्ड - दोहा ४१ से ५०

उत्तरकाण्ड - दोहा ५१ से ६०

उत्तरकाण्ड - दोहा ६१ से ७०

उत्तरकाण्ड - दोहा ७१ से ८०

उत्तरकाण्ड - दोहा ८१ से ९०

उत्तरकाण्ड - दोहा ९१ से १००

उत्तरकाण्ड - दोहा १०१ से ११०

उत्तरकाण्ड - दोहा १११ से १२०

उत्तरकाण्ड - दोहा १२१ से १३०