Android app on Google Play

 

सोड्दर बच्चे


1945 में वेस्ट वर्जिनिया में जॉर्ज और जेंनी सोड्दर ने अपने 9 बच्चों को थोड़ी देर ज्यादा जागने की इजाज़त दी क्यूंकि अगले दिन क्रिसमस था और वह बहुत खुश थे |जेन्नी के मुताबीक 12 बजे के बाद घर पर एक फ़ोन आया और जब उसने फ़ोन उठाया तो उसे एक अजीब सी हंसी सुनाई दी |करीब 1 बजे रात को एक भारी वस्तु छत के ऊपर गिरी और सारा घर जलने लगा |बड़ी मुश्किल से माँ बाप ने चार बच्चो को घर से निकाला | इसके तुरंत बाद ही पूरा घर आग के हवाले हो गया |स्थानीय आग विभाग के लोग देर से पहुंचे और जब तक वह आये घर नष्ट हो चूका था |उन्होनें मलबे में खूब ढूँढा लेकिन बाकि बच्चों के अवशेष नहीं मिले |ऐसा मान लिया गया की वह 5 बच्चे गायब हो गए हैं |माँ बाप ने काफी सारा पैसा खर्च कर एक बिलबोर्ड लगवाया जिसमें उन बच्चों की तसवीरें  थीं लेकिन कहीं से कोई सुराग नहीं मिला |कई धारणाएं सामने आई जिसमें से एक है सिसिलियन माफिया द्वारा इन बच्चों का अपहरण होना क्यूंकि जॉर्ज ने कुछ ऐसे बयान दिए थे जो की उनकी सत्ता के खिलाफ थे |