अलिफ लैला (Hindi)


संकलित
अलिफ़ लैला अरेबियन नाइट्स (एक हजार और एक नाइट्स) की कहानियों पर आधारित कहानियों का संग्रह है|

Chapters

शहरयार और शाहजमाँ की कहानी

किस्सा तीसरे बूढ़े का जिसके साथ एक खच्चर था

किस्सा दूसरे बूढ़े का जिसके पास दो काले कुत्ते थे

किस्सा व्यापारी और दैत्य का

किस्सा गधे, बैल और उनके मालिक का

किस्सा बूढ़े और उसकी हिरनी का

किस्सा मछुवारे का

किस्सा गरीक बादशाह और हकीम दूबाँ का

किस्सा भद्र पुरुष और उसके तोते का

मजदूर का संक्षिप्त वृत्तांत

किस्सा काले द्वीपों के बादशाह का

किस्सा पहले फकीर का

किस्सा तीन राजकुमारों और पाँच सुंदरियों का

किस्सा दूसरे फकीर का

किस्सा वजीर का

किस्सा भले आदमी और ईर्ष्यालु पुरुष का

किस्सा अमीना का

जवान और मृत स्त्री की कहानी

किस्सा जुबैदा का

किस्सा तीसरे फकीर का

एक स्त्री और तीन नौकरों का वृत्तांत

नूरुद्दीन अली और बदरुद्दीन हसन की कहानी

सिंदबाद जहाजी की पहली यात्रा

किस्सा सिंदबाज जहाजी का

काशगर के दरजी और बादशाह के कुबड़े सेवक की कहानी

सिंदबाद जहाजी की दूसरी यात्रा

सिंदबाद जहाजी की तीसरी यात्रा

सिंदबाद जहाजी की छठी यात्रा

सिंदबाद जहाजी की चौथी यात्रा

सिंदबाद जहाजी की पाँचवीं यात्रा

सिंदबाद जहाजी की सातवीं यात्रा

ईसाई द्वारा सुनाई गई कहानी

अनाज के व्यापारी की कहानी

काशगर के बादशाह के सामने दरजी की कथा

उस आदमी की कहानी जिसके चारों अँगूठे कटे थे

यहूदी हकीम द्वारा वर्णित कहानी

दरजी की जबानी नाई की कहानी

लँगड़े आदमी की कहानी

नाई के कुबड़े भाई की कहानी

नाई के दूसरे भाई बकबारह की कहानी

नाई के तीसरे भाई अंधे बूबक की कहानी

नाई के चौथे भाई काने अलकूज की कहानी

नाई के पाँचवें भाई अलनसचर की कहानी

नाई के छठे भाई कबक की कहानी

अबुल हसन और हारूँ रशीद की प्रेयसी शमसुन्निहर की कहानी

कमरुज्जमाँ और बदौरा की कहानी

नूरुद्दीन और पारस देश की दासी की कहानी

ईरानी बादशाह बद्र और शमंदाल की शहजादी की कहानी

गनीम और फितना की कहानी

शहजादा जैनुस्सनम और जिन्नों के बादशाह की कहानी

शहजादा खुदादाद और दरियाबार की शहजादी की कथा

दरियाबार की शहजादी की कहानी

सोते-जागते आदमी की कहानी

अलादीन और जादुई चिराग की कथा

खलीफा हारूँ रशीद और बाबा अब्दुल्ला की कहानी

अंधे बाबा अब्दुल्ला की कहानी

सीदी नोमान की कहानी

ख्वाजा हसन हव्वाल की कहानी

अलीबाबा और चालीस लुटेरों की कहानी

बगदाद के व्यापारी अली ख्वाजा की कहानी