Android app on Google Play iPhone app Download from Windows Store

 

तिमिति या आग पर चलना

इस प्रथा का पालन तमिल नाडू में होता है जब एक व्यक्ति आग के ऊपर चलता है | हर साल ये प्रथा अक्टूबर या नवम्बर के महीने में आयोजित होती है | इस प्रथा का मूल सदियों पुराना है | महाभारत के मुताबिक जब द्रौपदी का चीर हरण हुआ था तो उन्होनें कसम खाई थी की वह अपने बाल तब काड़ेंगी जब वह उसमें दुशासन का खून लगा पाती  हैं | 

महाभारत के बाद उन्होनें आग पर चलकर आपनी पवित्रता को साबित किया था |इस प्रथा को द्रौपदी के इस कर्म को मान्यता देने के लिए आयोजित किया जाता है | इस प्रथा को श्री लंका , मलेशिया , मॉरिशस और दक्षिण अफ्रीका में भी आयोजित किया जाता है |