Android app on Google Play iPhone app Download from Windows Store

 

खाने पर लोटना

दक्षिण कर्णाटक में ये प्रथा मद स्नान के दौरान कुक्के सुब्रहमन्य मंदिर में आयोजित की जाती है | दलित या निचले दबके के लोग ब्राह्मणों द्वारा छोड़े गए खाने के पत्तों पर लोटते हैं | हर साल करीब ३५०० श्रद्धालू इस विवादास्पद प्रथा में शामिल होते हैं | ऐसा मानना है की इस प्रथा के पालन से त्वचा की बीमारियाँ दूर होती हैं | 

१९७९ में “मद स्नान” को प्रतिबंधित कर दिया गया था लेकिन श्रद्धालुओं के कहने पर फिर से शुरू कर दिया गया |