Android app on Google Play

 

मंदिर का प्रार्थना पर असर

 

प्रार्थना का महत्त्व और असर तभी ज्यादा होता है जब ये किसी मंदिर के अन्दर किया जाए | ऐसा इसलिए क्यूंकि जब आप बाहर बैठ पूजन करते हैं तो उससे उभरी उर्जा आसमान में कहीं बिखर जाती है | लेकिन वहीं अगर आप मंदिर में बैठ कर प्रार्थना करें तो गुम्बद का आकार होने के कारण वह तरंगें टकरा के व्यक्ति के आसपास सकरात्मक उर्जा का सर्किल निर्मित हो जाता है | ये उर्जा का केंद्र व्यक्ति को और प्रेरित करता है |