A PHP Error was encountered

Severity: Warning

Message: fopen(/tmp/ci_session4q9gss43j6g6eis1h6au74jk5odp0u7e): failed to open stream: No such file or directory

Filename: drivers/Session_files_driver.php

Line Number: 172

Backtrace:

File: /var/www/bookstruck/application/controllers/Book.php
Line: 14
Function: __construct

File: /var/www/bookstruck/index.php
Line: 317
Function: require_once

A PHP Error was encountered

Severity: Warning

Message: session_start(): Failed to read session data: user (path: /tmp)

Filename: Session/Session.php

Line Number: 143

Backtrace:

File: /var/www/bookstruck/application/controllers/Book.php
Line: 14
Function: __construct

File: /var/www/bookstruck/index.php
Line: 317
Function: require_once

शनि शिंगणापुर का महात्मय | जागृत देवस्थान | Marathi stories | Hindi Stories | Gujarati Stories

Android app on Google Play

 

जागृत देवस्थान

ऐसा माना जाता है की ये मंदिर एक जागृत देवस्थान है मतलब इस मंदिर के भगवान मंदिर में ही बसते हैं | यहाँ पर जो मूर्ति निकली है वह स्वयंभू है जो पृथ्वी से एक काले पत्थर के रूप में खुद बाहर आई थी |किसी को नहीं मालूम की इसका काल क्या है लेकिन ऐसा बताया जाता है की ये स्वयंभू मूर्ति स्थानीय चरवाहों को मिली थी | ऐसा बताया जाता है की ये कलि युग की शुरुआत की बात है | इस गाँव में एक डाक खाना और श्री शनिश्वर विद्या मंदिर नाम का एक विद्यालय है |