Android app on Google Play

 

ब्रह्मचारी

 


जब पार्वती कठोर ताप कर शिव को प्रसन्न करने का प्रयत्न कर रही थी तब शिव ने उनकी परीक्षा लेने के लिए ब्रह्मचारी अवतार लिया | इस रूप में वह पार्वती के पास पहुंचे | पार्वती ने उनकी विधि पूर्वक पूजा की | इसके बाद वह पार्वती से तपस्या का कारण पूछने के बाद शिव की निंदा करने लगे | इस पर पार्वती गुस्सा हो गयी | शिव प्रसन्न हो कर अपने असली रूप में प्रकट हो गयी |