मौत के लक्षण (Hindi)


हिंदी संपादक (विशेष लेखन)
जन्म मरण के खेल से आजतक कोई मनुष्य नहीं बच पाया | मौत जीवन का अगम्य सच है | पर क्या किसी तरह से पता चल सकता है की मौत हमारे कितने करीब है | आइये पढ़ें किन लक्षणों से मौत की आहट का आभास होता है |