भारत और गणित का सम्बन्ध (Hindi)


हिंदी संपादक (विशेष लेखन)
ये कोई हैरानी की बात नहीं होगी की शून्य जिसकी शुरुआत 3 या 4 सदी में हुई थी उसकी खोज भारत में ही हुई थी |भारत में गणित की शुरुआत का इतिहास 3000 साल पुराना है और सदियों तक यहाँ उसकी पहुँच रही थी | बहुत बाद में ये उपलब्धियां यूरोप, चाइना और मिडिल ईस्ट के देशों में देखी गयीं |शून्य के इलावा भारत का गणित में योगदान त्रिकोणमिति, बीजगणित, अंकगणित और ऋणात्मक संख्याएं के क्षेत्र में भी देखी गयी | आइये पढ़ते हैं भारत की गणित के क्षेत्र में उपलब्धियों के बारे में |