विश्वास या अन्धविश्वास -हिन्दू धर्म के सत्य (Hindi)


हिंदी संपादक (विशेष लेखन)
हजारों वर्ष से प्रचलित हिन्दू धर्म में कई धारणाओं और मान्यताओं को बेहद अहम स्थान मिला है |किसी ने भी आजतक इन मान्यताओं के वैज्ञानिक सत्य को टटोलने का प्रयत्न नहीं किया है | यही कारण है की आज भी ये धारणाएं हम भारतियों के मस्तिष्क में बस चुकी हैं |हम इन मान्यताओं को तोड़ने की कोशिश भी करने को भी तैयार नहीं है |जानते हैं हिन्दूधर्म के 10 ऐसे विश्वास या अन्धविश्वास |