Android app on Google Play iPhone app Download from Windows Store

 

मढ़ किला


मढ़ किला (वर्सोवा किले के नाम से जाना जाने वाला) उत्तरी मुम्बई में एक छोटा किला है, मढ़ द्वीप पर स्थित। यह पुर्तगाली भारत में पुर्तगालियों द्वारा बनाया गया था। फरवरी १७३९ में उहोंने यह किला मराठो से युद्ध में गवां दिया जब मराठो ने इसपे कब्ज़ा कर लिया। 
अंग्रेजों ने १७७४ में सालसेट द्वीप, थाना किला, वर्सोवा किला, और करंजा के द्वीप किले पर कब्जा कर लिया।
यह किला एकांत और पहुँचने के लिए कठिन है, मलाड से लगभग १५ किलोमीटर (९ मील) है, बेस्ट बस से से २७१ मार्ग से आखरी बस स्टॉप या वर्सोवा के माध्यम से नौका नाव से जा सकते है। 
यह किला मढ़ गाँव के पास स्थित है। यह मढ़ बस स्टॉप से लगभग १ किलोमीटर की चलने की दूरी पर है। यह किला १७ वीं सदी में पुर्तगालियों द्वारा एक पहरे की मीनार के तौर बनाया गया था। यह समुद्र तट के एक सामरिक दृष्टि प्रदान करता है और मार्वे क्रीक की रखवाली करता है। इसके बाहरी हिस्से को बरकरार है, लेकिन आंतरिक रूप से यह जीर्ण-शीर्ण है। यह भारतीय वायु सेना के नियंत्रण में है, क्योंकि यह एक भारतीय एयर फोर्स बेस के पास स्थित है और यह तक पहुँचने के लिए अनुमति आवश्यक है।मढ़ द्वीप का किला स्थानीय मछवारों से घेरा हुआ है। 
कुछ बॉलीवुड की फिल्में जैसे लव के लिए कुछ भी करेगा, शूटआउट एट वडाला, १९८५ की मनमोहन देसाई की फिल्म मर्द, ज़माना दीवाना, खलनायक, शतरंज, और तराज़ू की यहाँ शूटिंग हुई है। नामांकित टीवी धारकए जैसे चंद्रकांता और सी.आई.डी की भी शूटिंग यहाँ हुई है।