Android app on Google Play

 

लत लग जाना

 

बस अब क्या? हम उस फोन के व्यसन मै ढल चुके हैं अब तो फोन की आदत सी हो गई होगी है ना...। फोन ना होने पर तनाव गुस्सा और अनिद्रा उदासीनता बन जाती है घर में भी झगड़े वह शांति चुप्पी भरी जोकि एक अकेलेपन की भूतिया हवेली बना देती है।

बच्चे भी देख देख कर बस एक गलतफहमी बना लेते हैं की फोन ही उनकी दुनिया है। और फोन के बिना जीवन असंभव है ।

 

मोबाइल की दुनिया

सच्चाई दुनिया की
Chapters
प्रारम्भ
जाल में फंसना
लत लग जाना