Android app on Google Play

 

वाहन का निर्धारण

 

शनि जिस वाहन पर सवार हो किसी राशी में प्रवेश करते हैं उससे ये निर्धारित होता है की जातक के जीवन पर उसका क्या असर  होने वाला है |जिसके भी जीवन में शनि प्रवेश करने वाला हो उसको चाहिए की वह अपने जन्म के नक्षत्र की संख्या और शनि के राशी के बदलने की तिथि को जोड़ कर 9 से भाग कर दे |जो संख्या आएगी उससे वाहन निर्धारित हो जायेगा |इसके इलावा आपशनि के राशि प्रवेश करने की तिथि संख्या+ ऩक्षत्र संख्या +वार संख्या +नाम का प्रथम अक्षर संख्या इन सब को जोड़कर 9 से भाग कर दें | इससे सो संख्या आपको मिलेगी वह  शनि के वाहन की संख्या होगी |अगर अंत में संख्या 0 बचे तो उसे 9 की तरह समझना चाहिए |

शेष संख्या 1 होने पर शनि का वाहन गधा होता है।
शेष सँख्या 2 होने पर शनि का वाहन घोड़ा होता है।
शेष सँख्या 3 होने पर शनि का वाहन हाथी होता है।
शेष सँख्या 4 होने पर शनि का वाहन भैंसा होता है।
शेष सँख्या 5 होने पर शनि का वाहन सिंह होता है।
शेष सँख्या 6 होने पर शनि का वाहन सियार होता है।
शेष सँख्या 7 होने पर शनि का वाहन कौआ होता है।
शेष सँख्या 8 होने पर शनि का वाहन मोर होता है।
शेष सँख्या 9 होने पर शनि का वाहन हँस होता है।