Android app on Google Play iPhone app Download from Windows Store

 

सर बदलवाना


इसके पश्चात विष्णु जल्दी ही गरुड़ पर सवार हो उत्तर दिशा को गए | वहां एक हथिनी को पुष्पभद्रा नदी के तट पर अपने बच्चे के साथ सोते देखा | ऐसे में विष्णु ने उस बालक का मस्तक काट लिया | इसी मस्तक को लाकर फिर गणेश के सर पर स्थापित किया |