Android app on Google Play iPhone app Download from Windows Store

 

श्रीराम के काल के महत्वपूर्ण लोग

गुरु वशिष्ठ और ब्रह्माजी की अनुशंसा पर ही प्रभु श्रीराम को विष्णु का अवतार घोषित किया गया था। श्रीराम के काल में उस वक्त विश्‍वामित्र से वशिष्ठ की लडाई चलती रहती थी। उनके काल में ही भगवान परशुराम भी थे। उनके काल के ही एक महान ऋषि वाल्मीकि ने उन पर रामायण लिखी। अत्रि ऋषि और अष्टावक्र ऋषि श्रीराम के काल में मौजूद थे। 

श्रीराम ने सीता को रावण के चंगुल से छुड़ाने के लिए संपाति, जटायु, हनुमान, सुग्रीव, विभीषण, मैन्द, द्विविद, जाम्बवंत, नल, नील, तार, अंगद, धूम्र, सुषेण, केसरी, गज, पनस, विनत, रम्भ, शरभ, महाबली कंपन (गवाक्ष), दधिमुख, गवय और गन्धमादन आदि की सहायता ली। श्रीराम के काल में पाताल लोक का राजा था अहिरावण। अहिरावण श्रीराम और लक्ष्मण का अपहरण करके ले गया था।श्रीराम के काल में राजा जनक थे, जो उनके ससुर  थे।