Android app on Google Play iPhone app Download from Windows Store

 

ब्रह्मा

ब्रह्मा के पांच सर थे लेकिन उनके पांचवे सर को शिव ने काट दिया था |

विष्णु ने ब्रह्मा से पुछा की ब्रह्माण्ड का निर्माता कौन है | घमंड में ब्रह्म ने विष्णु से कहा की तुम मेरी पूजा करो | एक दिन ब्रह्मा ने सोचा “मेरे पांच सर हैं , शिव के भी पांच सर हैं इसलिए में ही शिव हूँ | ब्रह्मा ने शिव के कामों में दखल देना शुरू कर दिया | तब महादेव ने अपनी ऊँगली से एक नाखून ब्रह्मा पर फेंका | उस नाख़ून ने काल भैरव का रूप लिया और ब्रह्मा का सर काट दिया | ब्रह्मा का सर आज भी काल भैरव के हाथ में है | काल भैरव के रूप में शिव हर शक्तिपीठ की रक्षा करते हैं |