Android app on Google Play iPhone app Download from Windows Store

 

स्पष्ट झलक

अंकित होने वाले गैर परस्पर संवादात्मक व्यक्तित्व की श्रेणी में आते हैं क्यूंकि अपनी इंसानी रूपरेखा और हरकतों के बावजूद वह अपनी परिस्थितियों से बिलकुल अनजान होते हैं | एक और खुबी जो इन भूतों की अपने परस्पर संवेदात्मक दोस्तों से भिन्न करती है वह यह है की इन्हें एक ही हरकत को बार बार करने की आदत होती है | एक ही गलियारे से बार बार निकलना या एक ही खिड़की से बार बार बाहर झांकना इस प्रकार के व्यक्तित्व की खासियत होती है | दर्शक ऐसे व्यक्तित्वों से संपर्क नहीं कर पाते हैं और ना ही बार बार एक ही कार्य को करने की उनकी आदत में विघ्न डाल पाते हैं | अंकित होना नाम इस तथ्य से जुड़ा है की ये भूत एक ही जगह और एक ही व्यव्हार में बंधे या अंकित  होते हैं |

कुछ लोग दलील देते हैं की ये लोग वाकई में भूत नहीं है , अपितु एक ऐसे शक्स जो यहाँ रहता था उसकी रोज़ मर्रा के कार्य को करने की क्रिया की तस्वीर का एक रूहानी रूपांतर है | ये तस्वीर किसी तरह से वातावरण में कैद हो गयी है और कुछ परिस्थितियों में और लोगों के देखने के लिए दोहराई जाती है |